ब्लैक फंगस के लिए इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन जिम्मेदार? AIIMS के डॉक्टर का दावा

53

ब्लैक फंगस की मुख्य वजह स्टेरॉयड का दिया जाना है. लेकिन अब दिल्ली के प्रशिद अस्पताल एम्स की डॉक्टर प्रोफेसर उमा कुमार ने इस पर सवाल उठाया है और उनका दावा है कि इस बीमारी की कई और वजहें हैं

कोरोना संकट के बीच देशभर में ब्लैक फंगस (म्यूकरमाइकोसिस) के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. कुछ राज्यों ने ब्लैक फंगस को अपने यहां महामारी भी घोषित कर दिया है. ब्लैक फंगस नाम की बीमारी ने लोगों को नए टेंशन में डाल दिया है. ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि आखिर यह बीमारी किन वजहों से बढ़ रही है .

ब्लैक फंगस के मामले लगातार बढ़ने के कारणों के बारे में डॉक्टर प्रोफेसर उमा कुमार ने कहा कि कोरोना मरीजों को मेडिकल ऑक्सीजन की जगह इंडस्ट्रीयल ऑक्सीजन दिए जाने की वजह से मामले बढ़ रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि ह्यूमिडिफायर में स्टेरायल वाटर की जगह गंदे पानी का इस्तेमाल किया जा रहा है. इसके अलावा बिना धुले गंदे मास्क का उपयोग किया जा रहा है. साथ ही स्टेरॉयड का गलत इस्तेमाल भी इसकी बड़ी वजह है.

13 साल के बच्चे को ब्लैक फंगस

अहमदाबाद में 13 साल के बच्चे में ब्लैक फंगस का मामला सामने आया है. बच्चे में ब्लैक फंगस की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद शुक्रवार को अहमदाबाद के एप्पल चिल्ड्रेन अस्पताल में ऑपरेशन किया गया. बच्चा इससे पहले कोरोना संक्रमित हो चुका था. बच्चे की मां भी कोरोना पॉजिटिव रही और इस वजह से उसकी मौत भी हो गई. बच्चे में ब्लैक फंगस का यह पहला मामला है.

अप्रैल में बच्चा संक्रमित हुआ था और वह बाद में ठीक हो गया था. डेढ़ महीने के बाद बच्चे में ब्लैक फंगस के लक्षण पाए गए. डॉक्टरों ने जब इसका टेस्ट किया तो इसमें म्यूकरमाइकोसिस पॉजिटिव पाया गया. फिर बच्चे का ऑपरेशन किया गया और अब वह सुरक्षित है

देशभर में 7 हजार से ज्यादा केस

देश के कई राज्यों में ब्लैक फंगस के मामले आ चुके हैं. अब तक इसके 7,251 केस सामने आए हैं जिसमें 219 लोगों की मौत भी हो गई है. केंद्र सरकार ने कल गुरुवार को राज्यों से कहा था कि राज्यों को महामारी अधिनियम, 1897 के तहत ब्लैक फंगस को महामारी घोषित करना चाहिए. ब्लैक फंगस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है महाराष्ट्र और यहां पर 1,500 मामले आ चुके हैं जबकि 90 मौतें भी हो चुकी हैं.

Previous article14 killed, 226 cases due to black fungus
Next articleराजस्थान में कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक! 341 बच्चे मिले पॉजिटिव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here