AIIMS new guidelines for corona patients

165
AIIMS new guidelines for corona patients
AIIMS new guidelines for corona patients

कोरोना वायरस के बढ़ते सकंट के बीच दिल्ली के एम्स द्वारा नई गाइडलाइन्स जारी की गई हैं. युवाओं में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एम्स द्वारा इन नए दिश निर्देशों में हल्के और गंभीर लक्षण होने पर उपायों की जानकारी दी गई है.

एम्स की नई गाइडलाइन (AIIMS new guidelines)

हल्के लक्षण वाले मरीज: एम्स की नई गाइडलाइन्स में बताया गया है कि अगर किसी व्यक्ति को कोरोना के हल्के लक्षण आते हैं, तो उसे घर में ही आइसोलेट होने की कोशिश करनी चाहिए. इस दौरान लोगों से दूरी बनाए रखे, मास्क, सैनिटाइजर और सफाई का ध्यान रखे. अपने डॉक्टर के संपर्क में रहे. अगर सांस लेने में किसी तरह की परेशानी आती है, तो तुरत हॉसिपटल में भर्ती होइए।

ज्यादा लक्षण दिखने लगें तो: अगर किसी व्यक्ति की परेशानी जय्दा बढ़ने लगती है, सांस लेने में काफी परेशानी हो रही है. तो उसे वार्ड में भर्ती हो जाना चाहिए. अधिक परेशानी पर ऑक्सीजन सपोर्ट मिलना जरूरी है. डॉक्टरों द्वारा लगातार उसके सांस लेने पर नज़र रखनी होगी.

टेस्ट जरूरी है, अगर हालत बिगड़ रही है तो. 

AIIMS new guidelines for corona patients

हालात बेकाबू होने लगें तो: अगर किसी की हालत बहुत ज्यादा बिगड़ गई है, तो उसे आईसीयू में भर्ती करें. मरीज की ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा किया जाए और उसके हिसाब से ही इलाज किया जाए. मरीज को खून से जुड़ी कोई दिक्कत ना होने दें, ना ही उसपर तनाव बढ़ने दें. हालात बिगड़ने पर तुरंत चेस्ट का टेस्ट करवाए।

इन सामान्य गाइडलाइन्स के अलावा एम्स दिल्ली ने गुरुवार को एक और निर्देश दिया है. एम्स में रिसॉर्स की कमी होने के कारण अब सिर्फ उन हेल्थकेयर वर्कर्स का का टेस्ट किया जाएगा, जिनमें कोरोना के लक्षण हैं. वहीं अगर कोई कोरोना पॉजिटिव आता है, तो उसे आइसोलेट किया जाएगा और उसी हिसाब से इलाज किया जाएगा.

Previous articleMI vs PBKS 2021, Prediction, Head to Head, Scorecard, IPL 2021
Next articleMI vs PBKS LIVE Stream IPL 2021

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here