Havoc in Delhi 1072 corona cases and 117 deaths in 24 hours

60

दिल्ली में 24 घंटे में 117 की मौत से कोरोना से मौत का कुल आंकड़ा 23,812 हो गया है. 15 अप्रैल के बाद एक दिन में सबसे कम मौत का आंकड़ा है. 15 अप्रैल को 112 मौत हुई थी. वहीं, दिल्ली में अब सक्रिय मरीजों की संख्या 16,378 हो गई है

Delhi Corona Updates: दिल्ली में कोरोना केसों में लगातार कमी आ रही है. पिछले 24 घंटे में यहां कोरोना के 1072 केस और 117 मौतें दर्ज की गई. 30 मार्च के बाद एक दिन में ये सबसे कम केस हैं, 30 मार्च को 992 केस आए थे. दिल्ली में संक्रमण दर घटकर 1.53 फीसदी हो गई है. 24 मार्च के बाद संक्रमण दर सबसे कम है. 24 मार्च को दर 1.52 फीसदी थी. 24 घंटे में दिल्ली में 3725 मरीज डिस्चार्ज भी हुए.

दिल्ली में 24 घंटे में 117 की मौत से कोरोना से मौत का कुल आंकड़ा 23,812 हो गया है. 15 अप्रैल के बाद एक दिन में सबसे कम मौत का आंकड़ा है. 15 अप्रैल को 112 मौत हुई थी. वहीं, दिल्ली में अब सक्रिय मरीजों की संख्या 16,378 हो गई है.

देश की राजधानी में कोरोना से रिकवरी दर बढ़कर 97.17 फीसदी हुई. 30 मार्च के बाद से ये सबसे ज्यादा, है. 30 मार्च को रिकवरी दर 7.2 फीसदी थी. उधर, दिल्ली में कोरोना केस का कुल आंकड़ा 14,22,549 हो गया है. कोरोना डेथ रेट- 1.67 फीसदी है

CAIT ने व्यपारियो के लिए वित्तीय पैकेज की मांग की

कोरोना महामारी के बीच कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने केंद्र और राज्य सरकारों से मांग की है कि व्यापारियों के लिए वित्तीय पैकेज दिया जाए. कैट ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन के साथ-साथ सभी राज्यों के वित्तमंत्रियों को पत्र भेजकर उनसे विभिन्न जीएसटीआर रिटर्न दाखिल करने की तारीख को 31 अगस्त तक आगे बढ़ाने की मांग की. साथ ही कहा कि जीएसटी अधिनियम और नियमों के तहत लगने वाले विलंब शुल्क और ब्याज को इस अवधि के लिए समाप्त किया जाए

कैट के महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने सभी सरकारों से आग्रह किया है कि कोविड महामारी और ब्लैक फंगस के इलाज़ के लिए आवश्यक सभी चिकित्सा उपकरणों पर जीएसटी की दर को भी काफी कम किया जाए. साथ ही व्यापारियों के लिए वित्तीय पैकेज और बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों से लिए गए ऋण पर छह महीने की मोहलत दी जाए.

अनलॉक में बिना शर्त इंडस्ट्री खोलने की अपील

दिल्ली में सब कुछ ठीक रहा तो 1 जून से सरकार अनलॉक की तरफ बढ़ सकती है. वही व्यापारी मार्केट खुलने की दशा में एसओपी बनाने में लगे हैं तो कई कारोबारियों ने लॉकडाउन में राहत पैकेज की मांग की है

Previous articleIPL 2021 can begin on 10 October, Reschedule, 2021,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here