दिल्ली में NSG कमांडर को भी नहीं मिला ICU बेड, रास्ते में ही तोड़ा दम

0
652
NSG कमांडर

दिल्ली में कोरोना का कहर बहुत तेज़ी से जा रहा है, जिसके चलते ब्लैक कैट कमांडो NSG कमांडर की मौत हो गई. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक NSG के ग्रुप कमांडर बीरेंद्र कुमार झा को दिल्ली में तत्काल प्रभाव से आईसीयू बेड न मिलने के चलते उनकी मौत हो गई. बीरेंद्र कुमार झा 22 अप्रैल को अर्धसैनिक बल के रेफरल हॉस्पिटल नोएडा में कोरोना से संक्रमित होने के चलते भर्ती हुए थे. उनकी हालत उस दौरान काफी सामान्य थी, लेकिन 4 मई की शाम 6:00 बजे अचानक बीरेंद्र कुमार झा की बहुत जयदा तबीयत बिगड़ी, जिसमें उनका ऑक्सीजन लेवल एकदम नीचे जाने लगा. 

बेड मिलने में हुई पांच घंटे के देरी 

बीरेंद्र कुमार झा को इसके बाद नोएडा के रेफरल हॉस्पिटल में आईसीयू बेड खाली ना होने के चलते दूसरे अस्पताल में ले की सलाह दी गई, जिसके तुरंत बाद दिल्ली में अस्पताल ढूंढने का सिलसिला शुरू हुआ है जिसके तुरंत बाद दिल्ली में अस्पताल ढूंढने का सिलसिला शुरू हुआ. सूत्रों ने जानकारी दी है कि NSG के ग्रुप कमांडर को अस्पताल में आईसीयू बेड मिलने में करीब 5 घंटे से निकल गया, इस दौरान बीरेंद्र कुमार झा की तबीयत जयदा खराब होती गई.

दिल्ली में NSG के ग्रुप कमांडर को भी नहीं मिला ICU बेड, रास्ते में ही तोड़ा दम

बताया गया है कि शुरुआती दौर में करीब रात 11:00 बजे मैक्स सुखदेव बिहार में उनको ले जाया गया, वहां भी  बेड ना होने की वजह से NSG के ग्रुप कमांडर को एस्कॉर्ट फॉर्टिस दिल्ली में भर्ती कराने के लिए ले जाया गया, लेकिन उनकी स्थिति इतनी ज्यादा क्रिटिकल थी कि वहां पहुंचते-पहुंचते उनकी डेथ हो गई. बता दें कि दिल्ली में जिस तरीके के हालात बने हुए हैं, उसमें लोगों को बेड मिलना काफी मुश्किल हो रहा है. NSG के ग्रुप कमांडर के लिए आईसीयू बेड ढूंढा जा रहा था, जिसमें समय लगने की वजह से ब्लैक कैट कमांडो के इस ग्रुप कमांडर की डेथ हो गई.

दिल्ली में कोरोना के आकड़े

बता दें कि कोरोना संक्रमण के आंकड़े राजधानी दिल्ली में बेहद डरावने हैं. दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 20960 नए केस सामने आए. इस दौरान 311 कोरोना मरीजों की मौत हो गई. दिल्ली में अब कोरोना के 91859 एक्टिव मरीज़ हो गए हैं, जबकि कोरोना से कुल मौत का आंकड़ा 18 हजार के पार पहुंच गया है. दिल्ली में अबतक कोरोना वायरस की वजह से 18063 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. वहीं होम आइसोलेशन में 50077 मरीज हैं. यहां संक्रमण दर 26.37% है. पिछले 24 घंटे में 79491 टेस्ट किये गए, जिसमें 20960 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here